महिलाओं की मदद करेगा ‘हिम्मत’ ऐप

दिल्ली पुलिस ने महिलाओं की सुरक्षा के लिए एक खास मोबाइल ऐप ‘हिम्मत’ जारी किया है। इमर्जेंसी के दौरान इस ऐप के जरिए शिकायतकर्ता और पुलिस कंट्रोल रूम चंद सेकंड में एक-दूसरे से जुड़ जाएंगे। इस ऐप में एक पावर बटन है। इसे थोड़ी देर तक दबाए रखने के बाद पुलिस और रजिस्टर्ड दोस्तों के नंबर पर अपने आप मेसेज चला जाएगा। साथ यह ऐप अपने आप विडियो रेकॉर्ड कर पुलिस कंट्रोल रूम को भेज देगा।

himmat
जानिए आप कैसे कर सकते हैं इस ऐप का इस्तेमाल

1- इस ऐप को दिल्ली पुलिस की वेबसाइट या फिर गूगल प्लेस से डाउनलोड किया जा सकता है।

2- नए यूजर को इसके लिए दिल्ली पुलिस की वेबसाइट पर रजिस्टर करना होगा। इसके लिए उसे अपना और अपने कम से कम दो दोस्तों या रिश्तेदारों के नाम व मोबाइल नंबर देने होंगे।

3- रजिस्ट्रेशन के बाद यूजर को रजिस्ट्रेशन के दौरान दिए गए मोबाइल नंबर पर एसएमएस आएगा। इसमें डाउनलोड लिंक और रजिस्ट्रेशन की होगी। इस की का इस्तेमाल यूजर को ऐप के रजिस्ट्रेशन विंडो में करना होगा। यह प्रक्रिया बस एक बार करनी होती है।

4- इमर्जेंसी के दौरान इस ऐप के पावर बटन को थोड़ी देर तक दबाना होगा। इसके बाद का काम यह ऐप खुद करेगा। ऐप रजिस्टर्ड दोस्तों और रिश्तेदारों के नंबर के अलावा पुलिस कंट्रोल रूम के पास भी एसएमएस भेज देगा।

5- पुलिस कंट्रोल रूप एसएमएस मिलते ही इसे दिल्ली पुलिस साइबर हाइवे के जरिए स्थानीय पीसीआर वैन और थाने में भेज देगा।

6- इमर्जेंसी के दौरान मोबाइल ऐप अपने आप एक ऑडियो और विडियो मेसेज रेकॉर्ड कर पुलिस कंट्रोल रूप को भी भेज देगा।

7- मोबाइल ऐप में हेल्प सेक्शन दिया गया है। इसमें बताया गया है कि ऐप के हर सेक्शन का इस्तेमाल किस तरह करना है। इसे जरूर पढ़ा जाना चाहिए।

8- फर्जी एसओएस अलर्ट: तीन फर्जी SOS अलर्ट या अलार्म भेजने पर यह रजिस्ट्रेशन रद्द किया जा सकता है।