चावल को डाइट में शामिल करने के हैं 8 लाजवाब फायदे

चावल सिर्फ इंडियन्स की ही नहीं दुनिया के कई देश में लोगों की फेवरेट डिश है। स्वाद के साथ ही अनेक फायदों से भरपूर होने के कारण चाइनीज से लेकर इटेलियन तक की मशहूर डिशेज में चावल का इस्तेमाल किया जाता है। हालांकि डाइटिशियन से लेकर डॉक्टर्स तक मोटापा कंट्रोल करने के लिए सबसे पहले डाइट से चावल को छोड़ने की सलाह देते हैं लेकिन सीमित मात्रा में किसी भी चीज का इस्तेमाल कभी भी नुकसानदायक नहीं होता।
चावल खाने से होने वाले फायदे
एनर्जी के लिए
चावल में कार्बोहाइड्रेट भरपूर मात्रा में मौजूद होता है जिसका काम बॉडी में एनर्जी सप्लाई करना होता है।
पेट साफ करता है
सही तरह से डाइजेशन न होने पर दूध में पके चावल की मात्रा डालकर खाना फायदेमंद रहेगा। स्वादानुसार इसमें शुगर मिला सकते हैं। इसे खाने से पेट आसानी से साफ हो जाता है |

फाइबर की भरपूर मात्रा, पेट के तकलीफ दूर, डाइजेशन के लिए सही, मोटापा करे कंट्रोल, ब्रेन बूस्टर है चावल, माईग्रेन में राहत।

फाइबर की भरपूर मात्रा चावल में फाइबर की अच्छी खासी मात्रा मौजूद होती है। जो डाइजेस्टिव सिस्टम के लिए जरूरी है। फाइबर डायबिटीज़ जैसी खतरनाक बीमारियों से बचाने के साथ ही ब्लड शुगर लेवल भी कंट्रोल करता है।
पेट की तकलीफ दूर
पचने में आसान होने के कारण इसे पेट के लिए बेस्ट फूड कहा जा सकता है। शायद यही कारण है कि बीमारी में मरीज को चावल-दाल से बनी खिचड़ी खाने की सलाह दी जाती है। चावल की तासीर ठंडी होती है इसलिए यह पेट के कई प्रकार के रोगों का बेहतरीन इलाज होता है।
डाइजेशन के लिए सहीrice
हाजमा खराब होने पर चावल का माड पीना बहुत ही फायदेमंद होता है। माड़ सॉल्यूबल होता है जो खुद के साथ-साथ खाना पचाने में भी मदद करता है|
मोटापा करे कंट्रोल
दोपहर के भोजन में चावल खाने के पीछे मकसद उसका जल्दी डाइजेस्ट होना है। रोजाना इसे खाने से इम्यूनिटी बढ़ती है जिससे कई तरह की बीमारियां दूर रहती हैं।
ब्रेन बूस्टर है चावल
जानकर आश्चर्य हो सकता है कि चावल ब्रेन डेवलपमेंच का काम करता है। इससे तैयार खिचड़ी खाने से न सिर्फ पेट को आराम मिलता है बल्कि ब्रेन डेवलपमेंट भी होता है।
माईग्रेन में राहत
माईग्रेन प्रॉब्लम के भी इलाज में चावल फायदेमंद होता है। चावल को शहद के साथ लगभग एक हफ्ते तक रोजाना खाएं और इसके फायदे देखें।
Source: Bhaskar