हैल्‍दी रहने और लंबी उम्र पाने के लिए…

आज के समय में जिस तरह से सुविधाएं बढ़ रही हैं, उसी तरह से बीमारियां भी बढ़ रही हैं। अगर भारत में मृत्युदर को देखें तो यह लगातर बढ़ती जा रही है। जीना और मरना हमारे हाथ में नहीं होता लेकिन हम अपनी तरफ से स्वस्थ रहने की कोशिश कर सकते हैं। आज हम आपको कुछ ऐसी खाने की चीज़ों के बारे में बता रहे हैं जो आपको बीमारियों से तो आपको बचाएगी ही, साथ ही हमेशा चुस्त-दुरुस्त और ऊर्जावान बनाए रखेगी। ये ऐसे फूड हैं जो व्यक्ति की उम्र लंबी करते हैं।

डार्क चॉकलेट
जी हां, अगर आपको चॉकलेट खाना पसंद है तो आप अब से डार्क चॉकलेट खाना शुरू करें। डार्क चॉकलेट में एंटी-ऑक्सीडेंट होता जो आपके दिल और दिमाग में ग्लूकोज लेवल को सही रखता है। इसमें फ्लैवोनॉयड्स होने की वजह से यह एंटी-एजिंग भी होता है। साथ ही, डार्क चॉकलेट खाने से ब्लड क्लॉट होने और कोलेस्ट्रॉल के बढ़ने का खतरा भी नहीं रहता है। जब भी आपका मन कुछ मीठा खाने का करे तो आप डार्क चॉकलेट खाएं। टेस्ट के साथ हेल्थ भी।
करमसाग (एक प्रकार की गोभी)
करमसाग बेहद ही पौष्टिक होता है, जिसे आप रोज़ खा सकते हैं। इसमें फाइबर, विटामिन बी6, आयरन और कैल्शियम की मात्रा अधिक होती है। खाने में इसका स्वाद गोभी की तरह ही होता है लेकिन अपने देश में यह मिलना थोड़ा-सा मुश्किल है। आप इसे ऑनलाइन या किसी बड़ी सब्जी मंडी से खरीद सकते हैं। इस के चिप्स भी बहुत ही स्वादिष्ट होते हैं और यह आपकी बॉडी को फैट फ्री रखने में मदद करता है।healthy habits
नारियल
शरीर को स्वस्थ रखने के लिए नारियल एक अच्छा फूड है। रोज़ सुबह एक गिलास नारियल पानी पीने से दिनभर में खत्म होने वाले इलेक्ट्रोलाइट की पूर्ति हो जाती है। इसके अलावा, अगर आप नारियल तेल को खाने में यूज़ करते हैं तो इससे शरीर को न्यूट्रिशन मिलता है। दिमाग को एक्टिव रखने के लिए ट्राइग्लिसराइड की ज़रूरत होती है, जो नारियल के तेल में पाया जाता है इसलिए हेल्दी रहने के लिए नारियल के तेल का इस्तेमाल करें।
पालक
पालक में एंटी-ऑक्सीडेंट होने की वजह से यह शरीर के लिए काफी फायदेमंद है। पालक में आयरन, विटामिन ए, सी और के होता है। पालक में ल्यूटियन होता है जो आंखों के लिए फायदेमंद होता है। इसके अलावा, इसमें फाइबर की मात्रा अधिक होती है। पालक शरीर में ब्लड प्रेशर को संतुलित रखने के साथ इम्युनिटी को भी बनाए रखता है। हेल्दी और फिट रहने के लिए हफ्ते में एक बार पालक ज़रूर खाएं। इसे आप सलाद के रूप में भी खा सकते हैं।
फिश
अगर आप नॉनवेज खाते हैं तो आप हफ्ते में एक बार फिश ज़रूर खाएं। फिश में विटामिन और ओमेगा-3 फैटी एसिड की मात्रा अधिक होती है। सालमन, हिलसा, किपर, मैकरल (छोटी समुद्री मछली), सार्डीन और टूना मछली काफी फायदेमंद होती है। सालमन फिश में प्रोटीन, विटामिन ए और बी भरपूर मात्रा में होता है। फिश खाने से मेमोरी तेज होती है और आर्थराइटिस जैसी बीमारी होने का खतरा कम रहता है।

बैरीज़
बैरीज़ में एंटी-ऑक्सीडेंट की मात्रा अधिक होती है। अपने सलाद को टेस्टी और हेल्दी बनाने के लिए बेरीज़ को ज़रूर शामिल करें। ब्लूबैरीज़ खाने से फैट नहीं होता और कार्डियोवैस्कुलर डिजीज़ भी नहीं होती। कैन बैरीज़ आपके शरीर के ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने का काम करता है। स्ट्राबैरी में भी एंटी-इन्फ्लामेटरी जैसे तत्व होते हैं और यह डायबिटीज और कैंसर को रोकने का काम करता है।
ग्रीन टी
ग्रीन टी में एंटी-ऑक्सीडेंट जैसे तत्व होते हैं जो बॉडी में बनने वाले गंदे पदार्थ को बहार निकालने का काम करते हैं। ग्रीन टी में विटामिन सी और ई भी पाया जाता है। ग्रीन टी में फ्लैवोनॉयड्स के साथ एंटी-एजिंग जैसे गुण भी पाए जाते हैं। दिन में रोज़ दो बार ग्रीन टी पीने से दिल से जुड़ी बीमारियां और कैंसर जैसी गंभीर बीमारी होने का खतरा कम रहता है। अच्छी और हर्बल टी पीने के लिए आप जापान की मैत्शा ग्रीन टी पी सकते हैं। यह एक आइडियल ग्रीन टी है और सबसे अच्छी होती है। ग्रीन टी पीने से आपकी बॉडी एनर्जेटिक बनी रहने के साथ और हेल्दी रहती है।
दही
हम भारतीय लोगों को दही बेहद पसंद होती है। अगर खाने के साथ दही न मिले तो खाने का स्वाद ही खराब हो जाता है। वैसे, यह अच्छी आदत है। अगर आप दही खाना पसंद करते हैं तो अब से और ज़्यादा दही खाया कीजिए। दही में प्रोटीन, विटामिन और कैल्शियम की मात्रा ज्यादा होती है। दही खाने से आपका दिल और शरीर दोनों मजबूत बनते हैं। इसके अलावा, दही ब्लड प्रेशर को भी बैलेंस रखता है।
-एजेंसी